इन स्मार्टफोन यूजर्स के लिए आया ये नया ऐप, कॉल रिकॉर्डिंग होगी पर नहीं चलेगा किसी को पता

0 14

नई दिल्ली: OnePlus, Oppo और Realme मार्केट में काफी नमी ब्रांड है। वहीं इन स्मार्टफोन के लिए नया डायलर ऐप लॉन्च हुआ है। यह ऐप कॉल रिकॉर्डिंग फीचर को सपोर्ट करता है। बता दें कि पिछले साल ही गूगल ने प्ले स्टोर से सभी थर्ड पार्टी कॉल रिकॉर्डिंग ऐप्स को पूरी तरह से हटा दिया था। अब जानकारी है कि इसी के बाद सभी स्मार्टफोन निर्माता कंपनियां अपने डिवाइसेज या हैंडसेट में इस फीचर को इंटीग्रेट करने का विचार कर रही है। वैसे अधिकतर स्मार्टफोन कंपनियां Android स्मार्टफोन में खुद का डायलर ऐप डिफॉल्ट में देती हैं। यानी स्मार्टफोन कंपनियां डिफ़ॉल्ट ऐप के साथ कॉल रेकॉर्डिग फीचर ऐप के रूप में देती हैं।

बता दें कि कुछ स्मार्टफोन कंपनियां गल फोन ऐप को डायलर के तौर पर स्मार्टफोन में इ्स्तेमाल करने लगी हैं। वहीं Oppo ने नए ColorOS ऐप के साथ नया डायलर जोड़ दिया है। यह ऐप गूगल प्ले स्टोर पर लिस्ट लिस्ट भी किया गया है। इस ऐप को Realme, OnePlus और Oppo के स्मार्टफोन में इस्तेमाल किया जा सकेगा।

यह ऐप इन डिवाइसेज में करेगा काम

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि Oppo के इस डायलर ऐप को गूगल प्ले स्टोर पर ODialer के नाम से लिस्ट किया गया है। यह ऐप ColorOS के डिफॉल्ट के तौर पर जोड़ा गया है। यह ऐप Realme और OnePlus के कस्टमाइज्ड यूजर इंटरफेस को भी सपोर्ट करता है। हालांकि इस ऐप Samsung, Xiaomi या अन्य ब्रांड के Android स्मार्टफोन में इस्तेमाल नहीं कर सकेंगे। वहीं यह ऐप सिर्फ Android 12 या इससे ऊपर के ऑपरेटिंग सिस्टम को ही सपोर्ट करता है।

जानिए ODialer ऐप के फीचर

ओप्पो के इस ODialer ऐप में फीचर की बात करें तो इसमें कॉल मैनेजमेंट फीचर दिया है। इस फीचर्स की मदद से रिसेंट कॉल यूजर्स की जरूरत के अनुसार ग्रुप्स में ऑर्गेनाइज हो जाती हैं। इसके साथ ही इसमें कॉल रिकॉर्डिंग फीचर भी मिलता है। हालांकि यह इनेबल होगा तो दूसरी तरफ कॉल वाले यूजर को कॉल रिकॉर्ड होने का पता भी नहीं चलेगा।

ODialer का इंटरफेस काफी अच्छा है और आसानी से इस्तेमाल किया जा सकता है। इसमें एक स्पीड डायल फीचर भी दिया गया है, जिसमें आप अपने फेवरेट कॉन्टैक्ट्स को रख सकते हैं। इसमें डार्क मोड थीम का भी सपोर्ट मिलता है।

ऐसे करें अपने फोन के किसी भी को ऐप लॉक

आजकल के कई फोन्स में  इन-बिल्ट एप लॉक करने की सुविधा दी जाती है। इसके लिए आपको सबसे पहले सेटिंग में जाना होगा। इसके बाद प्राइवेसी फीचर पर टैप करना होगा।

फेस या फिंगरप्रिंट के साथ करें वेरिफाई

यहां पर आपको कई सारे ऑप्शन दिखेंगे। इनमें आपको App Lock का ऑप्शन का चुनना होगा। इसके आपसे फेस या फिंगरप्रिंट के साथ वेरिफाई करने के लिए कहा जाएगा। आप दोनों में से कोई एक ऑप्शन चुन सकते हैं।

ऐप्स की लिस्ट में से करें चुनाव

इसके बाद आपको ऐप लॉक को इनेबल करना होगा। अब आपके सामने सभी ऐप्स की लिस्ट आ जाएगी। इसके बाद जो ऐप लॉक करना है उसपर टैप करें।

इस बात का रखें ख्याल

अगर आप फिंगरप्रिंट और फेस आईडी से फोन को लॉक नहीं करते हैं तो ऐप के लॉक के लिए ऐसा पासवर्ड चुनना होगा जो फोन के पासवर्ड से अलग हो।

नहीं किया ये काम तो हो जाएगा नुकसान

मान लीजिए आप दोनों पासवर्ड एक ही जैसे रखते हैं तो कोई भी आपका फोन और ऐप आसानी से खोल सकता है। दरअसल अगर किसी को आपके फोन का पासवर्ड पता होगा तो वो आसानी से ऐप लॉक को ओपन कर सकेगा।

This Post is auto generated from rss feed if you got any error/complaint please contact us.

Thank You…

Leave A Reply

Your email address will not be published.